Text selection Lock by Hindi Blog Tips

Flag counter

free counters

Tuesday, August 14, 2007

ना फहराना मुझको कहे ये तिरंगा

ना फहराना मुझको कहे ये तिरंगा



ना फहराना मुझको कहे ये तिरंगा-2

माँ बाप चबाएँ बेटियों की बोटी
आँसू बहाए हिमालय की चोटी

मैलि हो रही है राम की गंगा
ना फहराना मुझको कहे ये तिरंगा

प्रदूषित है पानी प्रदूषित हवा है
डॉक्टर हैं फ़र्ज़ी नक़ली दवा है
बीमार हो जाए जो होगा चंगा
ना फहराना मुझको कहे ये तिरंगा

अधर्म की आंधी से जूझ रहा है
देखो धरम का दीया बुझ रहा है
जल जाओ इसमे बनके पतंगा
ना फहराना मुझको कहे ये तिरंगा

दे रहे हैं हम ये कैसी शिक्षा
विदेशों मे मांगे नौकरी की भिक्षा
किसान है भूखा बुनकर है नंगा
ना फहराना मुझको कहे ये तिरंगा

ग़ुलामी की बेडी बाँधे जी रहे है लोकतंत्र में भि ज़ुबान सी रहे हैं

जैसे सूंघ गया है कोई भुजन्गा

ना फहराना मुझको कहे ये तिरंगा

कैसी आज़ादी कैसा अभिनंदन
माथे पे सबके ग़ुलामी का चंदन
चारों ओर आशांति नफ़रत और दंगा
ना फहराना मुझको कहे ये तिरंगा

No comments: