Text selection Lock by Hindi Blog Tips

Flag counter

free counters

Saturday, August 4, 2007

वक़्त नही ...

वक़्त नही ...

हर ख़ुशी है लोगो के दामन मे

पर एक हसी के लिए वक़्त नही

दिन रात दौड़ती दुनिया मे

ज़िंदगी के लिए ही वक़्त नही

मा की लोरी का एहसास तो है

पर मा को मा कहने का वक़्त नही

सारे रिश्तो को तो हम मार चुके

अब उन्हे दफ़नाने का भी वक़्त नही

सारे नाम मोबाइल मे है

पर दोस्ती के लिए वक़्त नही

गैरो की क्या बात करे

जब अपनो के लिए ही वक़्त नही

आँखो मे है नींद बढ़ी

पर सोने का वक़्त नही

दिल है गमो से भरा हुआ

पर रोने का भी वक़्त नही

पैसो की दौड़ मे ऐसे दौड़े

की थकने का भी वक़्त नही

पराए एहसान की क्या कदर करे

जब अपने सपनो के लिए ही वक़्त नही

तू ही बता ए ज़िंदगी

इस ज़िंदगी का क्या होगा

की हर पल मरने वालो को

जीने के लिए भी वक़्त नही

No comments: